Homeराज्यमुख्यमंत्री योगी के गढ़ में गरजे अखिलेश,बोले-उप्र को योगी नहीं योग सरकार...

मुख्यमंत्री योगी के गढ़ में गरजे अखिलेश,बोले-उप्र को योगी नहीं योग सरकार की जरूरत

गोरखपुर। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव शनिवार को यहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गढ़ में गरजे। उन्होंने समाजवादी विजय रथ यात्रा के तीसरे चरण की शुरुआत करते हुए कहा कि कहा कि उत्तर प्रदेश में अब योगी सरकार नहीं योग सरकार की जरूरत है। जो लैपटॉप चलाना जानता है, इंटरनेट चलाना जानता है वही तो मुखिया हो सकता है। मैंने सुना है कि मुख्यमंत्री लैपटॉप भी नहीं चला सकते। वह तो फोन चलाना भी नहीं जानते हैं।

उन्होंने कहा कि गोरखपुर की जनता विकास देखने का इंतजार कर रही है। मैं यहां राज्य के विकास की अपील करने आया हूं। भाजपा को 2024 की चिंता नहीं बल्कि 2022 में लोगों के सवालों का जवाब देना चाहिए। देश में महंगाई क्यों बढ़ी। पेट्रोल-डीजल के दाम क्यों बढ़े। किसानों की आय अब तक क्यों नहीं बढ़ी। प्रदेश के युवाओं को रोजगार क्यों नहीं मिले।

Centre releases grant of Rs 8,453.92 cr to 19 states to strengthen health systems

सपा अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा सरकार गरीबों की जेब काटकर अमीरों की तिजोरी भर रही है। जो लोग महंगाई को कम करने की बात कहते थे, उन्होंने महंगाई बढ़ाई है। युवाओं को नौकरी नहीं मिली है। गोरखपुर में विकास नहीं हुआ, यहां नाव का विकास हुआ। पूरा शहर बरसात के पानी से भरा हुआ था।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा याद करिए उस दिन को जब लॉकडाउन लगा था, हमारे मजदूरों को महाराष्ट्र, गुजरात से पैदल चलकर आना पड़ा। कोरोना काल में अस्पतालों में लोगों को मदद की जरुरत थी, उस वक्त सरकार ने लोगों को मरने के लिए छोड़ दिया था।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में 2022 में भारतीय जनता पार्टी की हालत खराब है। इसी कारण चुनाव आयोग ने मतदाता सूची में बढ़ने और कटने वाले वोटरों के नाम की सूची जारी नहीं की है। चुनाव आयोग को सूची जारी करनी चाहिए ताकि हम जान सकें कि कौन से वोट बढ़े हैं और कौन से वोट कटे हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments