Homeराज्यPM संग CM योगी की तस्वीर पर अखिलेश का तंज, बोले-बेमन से...

PM संग CM योगी की तस्वीर पर अखिलेश का तंज, बोले-बेमन से कंधे पर रख हाथ, कुछ कदम संग चलना पड़ता है…

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लखनऊ दौरे के दौरान राजभवन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कंधे पर हाथ रखकर चलती तस्वीर वायरल होने के बाद लोग तरह तरह की प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे हैं। भाजपा समर्थक इसे जहां प्रधानमंत्री का मुख्यमंत्री योगी पर अटूट विश्वास और बढ़ते हुए कद से जोड़ रहे हैं। वहीं विपक्ष दलों ने तंज कसा है।

दरअसल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अपने ट्विटर अकाउंट पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ अपनी इस तस्वीर को साझा किया। इसमें प्रधानमंत्री मोदी उनके कंधे पर हाथ रखकर राजभवन के गलियारे में टहल रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी ने इस तस्वीर के साथ कविता भी साझा करते हुए ट्वीट किया ‘हम निकल पड़े हैं प्रण करके, अपना तन-मन अर्पण करके, जिद है एक सूर्य उगाना है, अम्बर से ऊंचा जाना है, एक भारत नया बनाना है।’

सोशल मीडिया पर इन तस्वीरों के वायरल होने के बाद आम यूर्जस से लेकर सियासी दलों के नेताओं ने प्रति​क्रिया व्यक्त करना शुरू कर दिया। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बिना कोई नाम लिये शायरना अन्दाज में तंज किया। उन्होंने अपने ट्वीट में कहा, ‘दुनिया की खातिर, सियासत में कभी यूं भी करना पड़ता है। बेमन से कंधे पर रख हाथ, कुछ कदम संग चलना पड़ता है।

अखिलेश यादव लगातार सत्तारूढ़ दल पर हमलावर बने हुए हैं। उन्होंने चुनाव के बाद सपा की सत्ता में वापसी का दावा किया है। अखिलेश यादव ने लखनऊ में कहा कि किसानों के आन्दोलन से डरी हुई भाजपा द्वारा तीन कृषि कानूनों की वापसी की घोषणा उसकी चतुराई है। उसकी नीयत में खोट है। स्वयं उनकी पार्टी के नेता ही यह कह रहे हैं कि भाजपा सरकार फिर कृषि बिल ला सकती है। किसान समझ रहे हैं कि उन्हें भाजपा सरकार धोखा देना चाहती है। वह इसीलिए तत्काल आन्दोलन वापस नहीं कर रहे हैं।

सपा अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा किसानों की हितैषी नहीं, विरोधी है। उसने किसानों की फसल की एमएसपी पर ही बिक्री से अभी तक किनारा कर रखा है। समाजवादी सरकार ने मंडी की स्थापना की थी और सड़के बनाई थीं ताकि किसान अपनी फसल सुगमता से बेच सके। भाजपा के कानूनों से मंडियां ही बेकार हो गई।

जब मुख्यमंत्री योगी के कंधे पर हाथ रख टहलते दिखे प्रधानमंत्री मोदी

भाजपा की राज्य सरकार के अब गिने चुने दिन ही रह गए हैं। इस साढ़े चार साल से अधिक की अवधि में उसने विकास का कोई काम नहीं किया। समाजवादी सरकार के समय हुए कामों को ही अपना बताकर वह वाहवाही कराती रही। गिनाने को उसके पास एक काम नहीं है। एक यूनिट बिजली का उत्पादन नहीं हुआ। समाजवादी सरकार में लोक भवन का निर्माण हुआ था ताकि वहां से जनता को न्याय मिल सके। जेपी इन्टरनेशनल सेंटर, इकाना स्टेडियम, मेट्रो, आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे, अवध शिल्पग्राम, जनेश्वर मिश्र पार्क, समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे ये सभी समाजवादी सरकार की देन है।

सपा अध्यक्ष ने कहा कि यहां तक की राजधानी में अभी जहां डीजी कांफ्रेन्स हुई और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी आए, वह सिग्नेचर बिल्डिंग भी समाजवादी सरकार में बनी थी। इस भवन की भव्यता से सभी प्रभावित हुए हैं। कांफ्रेंस में आए पुलिस अधिकारी पुलिस मुख्यालय भवन देखकर आश्चर्य चकित थे, पूरे देश में पुलिस के पास कही भी इतना अच्छा इंफ्रास्ट्रचर और ऐसी बिल्डिंग नहीं है। उन्होंने कहा कि वास्तव में भाजपा ने अपना कुछ बनाया नहीं पर बने बनाए काम को बिगाड़ने में पीछे नहीं रही।

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments