Homeराज्यअखिलेश का निर्वाचन आयोग पर हमला, बोले-दबाव में नहीं सौंप रहा मतदाता...

अखिलेश का निर्वाचन आयोग पर हमला, बोले-दबाव में नहीं सौंप रहा मतदाता सूची, देंगे धरना

-भाजपा के दिखाए सपने अधूरे, ब्रेनस्ट्रोक साबित हुआ मास्टरस्ट्रोक

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने नोटबंदी को लेकर एक बार फिर भाजपा सरकार पर कटाक्ष किया। उन्होंने कहा कि आज हम नोटबंदी के दौरान बैंक की कतार में खड़ी महिला के पैदा हुए बच्चे खजांची का जन्मदिन मना रहे हैं। लेकिन, नोटबंदी करने वाली भाजपा को असल में उनका जन्मदिन मनाना चाहिए।

सपा अध्यक्ष ने मंगलवार को पार्टी के प्रदेश मुख्यालय पर पत्रकारों से बातचीत में कहा कि भाजपा ने जो सपने दिखाए थे वह अधूरे रह गए। उसके प्रयास से सिर्फ अमीरों को फायदा हुआ है। इतने साल बीतने के बाद भी नोटबंदी का फायदा नहीं बताया जा रहा है। मास्टरस्ट्रोक ब्रेनस्ट्रोक साबित हुआ। कालाधन वापसी की बात भी नोटबंदी के दौरान कही गई। लेकिन, भ्रष्टाचार तो लगातार बढ़ रहा है।

Karnataka To Train 18,000 Women Self Help Group Members On Solid Waste Management & Solar Energy Utilization In Rural Areas

निष्पक्षता से काम करे निर्वाचन आयोग

उन्होंने कहा कि वहीं इस बार मतदाता सूची राजनीतिक दलों को नहीं दी जा रही है। इससे यह साफ नहीं हो पा रहा है कि कितने लोगों का नाम काटा गया और कितने लोगों का जोड़ा गया। अखिलेश यादव ने कहा कि मतदाता सूची में 21,56,262 नाम जोड़े गए हैं और 16,42,756 नाम काटे गए हैं। जो नाम काटे गए और जोड़े गए उन नामों की सूची जारी की जाती है। लेकिन, इस बार निर्वाचन आयोग ना जाने किसके दबाव में ये सूची जारी नहीं कर रहा है। उन्होंने कहा कि अगर निर्वाचन आयोग ने ये सूची नहीं जारी की तो हम निर्वाचन आयोग के खिलाफ धरना भी देंगे। हर चुनाव में मतदाता सूची में जोड़े गए और काटे गए नामों की लिस्ट दी गई। ये लिस्ट 2019 तक दी गई। लेकिन, इस बार क्यों नहीं दी जा रही है?
सपा अध्यक्ष ने कहा कि चुनाव आयोग में दिल्ली में जितने अधिकारी गए हैं सब उत्तर प्रदेश से गए हैं। उत्तर प्रदेश में ही चुनाव है। हम उम्मीद करते हैं कि चुनाव आयोग निष्पक्षता से काम करेगा। हमें ये जानकारी क्यों नहीं दी जा रही है किसके नाम काटे गए और किसके नाम जोड़े गए?

झूठ बोल रहे मुख्यमंत्री, पिछड़ों की आबादी नहीं तो क्या मिलेगा सम्मान

वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि सपा अध्यक्ष ने कहा कि उनका भाषण सुनिए, उनसे पूछिए कि उन्होंने कितना बड़ा झूठ बोला कि पुरानी सरकार न सड़क बना रही थी, न बिजली बना रही थी, न अस्पताल दे रही थी और न इलाज दे रही थी। सपा अध्यक्ष ने कहा कि अरे ऐसे मुख्यमंत्री जो बिजली प्लांट का नाम नहीं ले पा रहे वो सस्ती बिजली क्या देंगे? वहीं जो आबादी को नहीं गिन पाएं, पिछड़ों का न गिनें वो क्या पिछड़ों का सम्मान करेंगे? कानपुर में किसने मेट्रो दी थी, कानपुर के लोग जानते हैं। भाजपा सरकार में एक भी नया प्रोजेक्ट स्वीकृत नहीं किया गया, सारे हमारी सरकार के हैं।

समाजवादी इत्र किया लॉन्च

इस मौके पर अखिलेश यादव ने समाजवादी इत्र लॉन्च किया। एमएलसी पुष्पराज जैन ने इत्र के लॉन्च के मौके पर कहा कि वर्ष 2022 में यह परफ्यूम नफरत को खत्म करेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में नफरत की राजनीति की जा रही है। उसे खत्म करने में यह इत्र कारगर साबित होगा। इस दौरान भाजपा के पूर्व मंत्री हरिओम उपाध्याय, बसपा की दिव्या गंगवार सहित कई नेताओं ने सपा की सदस्यता ग्रहण की।

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments