Homeराज्यअमित शाह बोले-प्रधानमंत्री मोदी के जैम में 'जे' से जनधन बैंक खाता,...

अमित शाह बोले-प्रधानमंत्री मोदी के जैम में ‘जे’ से जनधन बैंक खाता, सपा में ‘जे’ से जिन्ना

आजमगढ़। विधानसभा चुनाव से पहले नेताओं का विरोधी दलों पर हमला तेज होता जा रहा है। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को आजमगढ़ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ राज्य विश्वविद्यालय का तोहफा देने के मौके पर सपा बसपा पर जमकर कटाक्ष किया।

उन्होंने कहा कि जिस आजमगढ़ को दुनियाभर के अंदर, सपा शासन में कट्टरवादी सोच और आतंकवाद की पनाहगार के रूप में जाना जाता था, उसी भूमि पर आज मां सरस्वती जी का धाम बनाने का काम हम लोग कर रहे हैं। जहां पर कभी महिर्षि वशिष्ठ का आश्रम हुआ करता था, उसी भूमि पर आज मां सरस्वती जी का मंदिर बनने जा रहा है।

Centre releases grant of Rs 8,453.92 cr to 19 states to strengthen health systems

अमित शाह ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सुझाव देते हुए कहा कि इसी यूपी की भूमि पर परदेसी आक्रांताओं को खदेड़ने का काम महराज सुहेलदेव जी ने किया था। अगर इस यूनिवर्सिटी का नाम हम उनके नाम पर रखते हैं, तो ये लोगों के लिए बहुत बड़ा संदेश होगा।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एक जैम (JAM) लाए हैं, जिससे भ्रष्टाचार विहिन खरीदी हो सके, उसका आधार क्या है, ‘जे’ का मतलब है जनधन बैंक खाता, ‘ए’ का मतलब है आधार कार्ड और ‘एम’ का मतलब है हर आदमी को मोबाइल। वहीं सपा वाले भी जैम लाए हैं, उनके जैम (JAM) का मतलब है, ‘जे’ से जिन्ना, ‘ए’ से आजम खान और ‘एम’ से मुख्तार।

अमित शाह ने समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव पर हमलावर होते हुए कहा कि जैसे ही चुनाव आया है, अखिलेश जी को जिन्ना बहुत महान दिखने लगे हैं, यहां बैठे इतने लोग हैं, बताइये, कोई है जिसको जिन्ना महान लगता है।

भाजपा ने 2017 में अपने घोषणा पत्र में कहा था कि 10 नए विश्वविद्यालय बनाएंगे। आज 10 विश्वविद्यालय बनाने का काम पूरा हो चुका है। 40 मेडिकल कॉलेज बनाने का हमने वादा किया था, ये वादा भी हमने पूरा किया है।

गृह मंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कई परिवर्तन किए हैं। पहले यहां जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टिकरण का राज चलता था, सबको न्याय नहीं मिलता था। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टिकरण पर पूर्ण विराम लगाने का काम किया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश को माफिया राज से मुक्ति दिलाने का काम ने किया है। आजमगढ़ इसका उदाहरण है। कैराना से लोग पलायन कर रहे थे। बेटियों की उच्च शिक्षा नहीं हो पाती है। आज माफिया उत्तर प्रदेश छोड़कर चले गए हैं। अब यहां कानून का राज है।

उन्होंने कहा कि 2017 से पहले उत्तर प्रदेश, देश की छठी अर्थव्यवस्था थी, आज देश की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था उत्तर प्रदेश की है। प्रदेश की जीडीपी 10,90,000 करोड़ थी, आज 21,31,000 करोड़ करने का काम हुआ है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments