Homeदेशकल्याण सिंह के पार्थिव शरीर पर तिरंगे के ऊपर भाजपा का झंडा,...

कल्याण सिंह के पार्थिव शरीर पर तिरंगे के ऊपर भाजपा का झंडा, विपक्ष ने साधा निशाना

लखनऊ। भारत के राष्ट्रीय ध्वज (तिरंगा) के अपमान को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) एक बार फिर विपक्षी दलों के निशाने पर है। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह (Kalyan Singh) की श्रद्धांजलि सभा की एक तस्वीर सोशल मीडिया (social media) पर खूब वायरल हो रही है। भाजपा (BJP) की तरफ से ट्वीट की गई इस तस्वीर में तिरंगे में लिपटा पूर्व मुख्यमंत्री का शव है। इस तस्वीर के आधे हिस्से में शव पर बीजेपी का झंडा दिखाई दे रहा है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पार्टी सांसद शशि थरूर ने इस मुद्दे पर भाजपा की आलोचना की। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘जिस व्यक्ति को राष्ट्रगान को गाने के दौरान दिल पर हाथ रखने के लिए चार साल तक अदालती मुकदमा लड़ना पड़ा (बल्कि ध्यान से खड़े होने के बजाय), मुझे लगता है कि राष्ट्र को यह बताया जाना चाहिए कि सत्तारूढ़ दल यह अपमान कैसा महसूस करता है।’

समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता घनश्याम तिवारी ने ट्वीट किया, ‘देश से ऊपर पार्टी। तिरंगे के ऊपर झंडा। हमेशा की तरह भाजपा को कोई पछतावा नहीं, कोई पश्चाताप नहीं, कोई गम नहीं, कोई दुख नहीं।’

यूथ कांग्रेस के प्रमुख श्रीनिवास बीवी ने ट्वीट किया, ‘क्या न्यू इंडिया में भारतीय ध्वज पर पार्टी का झंडा लगाना ठीक है?’

यूथ कांग्रेस के आधिकारिक हैंडल से एक ट्वीट में कहा गया है, ‘तिरंगे के ऊपर भाजपा का झंडा! क्या स्वघोषित देश भक्त तिरंगे का सम्मान कर रहे हैं या अपमान कर रहे हैं?’

स्वतंत्रता दिवस पर तिरंगे से ऊंचा लहराया भाजपा का झंडा
इससे पहले भी राष्ट्रीय ध्वज का अपमान करने पर विपक्ष ने भाजपा पर निशाना साधा था। इस साल स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त के अवसर पर मध्य प्रदेश में भाजपा दफ्तर में तिरंगा के ऊपर बीजेपी का झंडा लहराता देखा गया था। पूरे मामले पर विपक्षी दल कांग्रेस ने भाजपा पर जमकर हमला बोला था।

कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी तिरंगे का अपमान कर रही है। भाजपा का झंडा ऊपर और तिरंगा नीचे। इससे शर्मनाक बात क्या हो सकती है? कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भी वीडियो शेयर करते हुए लिखा कि भाजपा और कांग्रेस में क्या अंतर है? भाजपा–पार्टी आगे देश पीछे। कांग्रेस–देश पहले पार्टी पीछे।

तिरंगे के अपमान पर ये है सजा
राष्ट्रीय सम्मान के अपमान की रोकथाम अधिनियम की धारा 2 के मुताबिक, जो कोई भी सार्वजनिक स्थान या किसी अन्य स्थान पर राष्ट्रीय ध्वज को सार्वजनिक जगह में जलाता है, विकृत करता है, या नष्ट करता है, रौंदता है या अन्यथा अनादर करता है या भारतीय राष्ट्रीय ध्वज या भारत के संविधान या उसके किसी भी भाग की अवमानना (चाहे शब्दों द्वारा, या तो बोले गए या लिखित, या कृत्यों द्वारा) करता है, तो उसे कारावास की सजा से दंडित किया जाएगा और इस सजा को तीन साल तक बढ़ाया जा सकता है साथ ही जुर्माने से दंडित या दोनों के साथ किया जाएगा।

आज अतरौली के नरौरा घाट पर होगा अंतिम संस्कार
89 वर्षीय कल्याण सिंह का लंबी बीमारी के बाद शनिवार की रात निधन हो गया था। उनके पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार बुलंदशहर जनपद के नरौरा में गंगा तट पर बासी घाट पर आज किया जाएगा। इसके लिए उनका पार्थिव शरीर अतरौली ले जाया जा रहा है। सभी तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। अंतिम संस्कार में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नडडा, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, सीएम योगी आदित्यानाथ, उत्तराखंड के सीएम सहित कई कैबिनेट मंत्रियों के आने की संभावना है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments