Homeराज्यनड्डा का 2022 में जीत का मंत्र, बोले-लोगों की समस्याओं को समझकर...

नड्डा का 2022 में जीत का मंत्र, बोले-लोगों की समस्याओं को समझकर एजेंडा करें सेट

नवनिर्वाचित जिला पंचायत अध्यक्ष-ब्लॉक प्रमुखों को मोदी-योगी सरकार की योजनाएं घर-घर पहुंचाने की दी​ जिम्मेदारी

लखनऊ। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने शनिवार को यहां नवनिर्वाचित जिला पंचायत अध्यक्ष और ब्लॉक प्रमुखों को मिशन 2022 की जीत का मंत्र दिया। इन्दिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित इस कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि छोटे चुनाव जीतना ज्यादा मुश्किल होता है। आप सभी सौभाग्यशाली हैं। अब खुद को जनता की सेवा में समर्पित करें। आपको जनता ने चुनकर यहां भेजा, इसलिए नेता नहीं, जनता के विश्वास के कस्टोडियन बनकर काम करें।

नड्डा ने मंत्र दिया कि हम लोगों को दिशा देने वाले हैं और लोगों की बात को समझकर उन्हें दृष्टि देने वाले हैं। लीडर को ये ध्यान रखना चाहिए कि उसे लोगों की समस्याओं को समझकर एजेंडा सेट करना चहिए और उसके अनुसार आगे बढ़ना चाहिए। उन्होंने सभी पदाधिकारियों से विधानसभा चुनाव को लेकर अपनी जिम्मेदारियों को पूरा करने और मोदी-योगी सरकार की योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने को कहा।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि बड़ी अबादी के बाद भी जिस तरह से कोरोना से मुकाबला हुआ है वह मोदी जी की इच्छाशक्ति से हो सका है। आज उत्तर प्रदेश कोरोना टेस्टिंग में नंबर वन है और वैक्सीन की डोज देने में भी देश में सबसे आगे है। मोदी जी के नेतृत्व में नभ, जल, थल से एक हफ्ते के अंदर ऑक्सीजन की रिकॉर्ड पूर्ति की गई।

विपक्ष पर हमलावर होते हुए उन्होंने कहा कि पहले की सरकारें कहती थी कि हमने किसानों का कर्जा माफ किया है। कुछ किसानों का एक बार कर्जा माफ करके, फिर किसानों की सुध नहीं ली जाती थी। प्रधानमंत्री मोदी जी 10 करोड़ से अधिक किसानों को किसान सम्मान निधि के तहत सालाना 2,000 रुपये की तीन किश्त दे रहे हैं।

किसान आन्दोलन को लेकर विपक्ष को जवाब देते हुए नड्डा ने कहा कि मोदी सरकार ने किसानों के लिए जितना ज्यादा किया है उतना किसी ने भी नहीं किया है। कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार में 1.21 लाख करोड़ रुपये कृषि पर खर्च होता था, लेकिन मोदी सरकार में 2.11 लाख करोड़ रुपये कृषि पर खर्च किए जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि पीएम किसान मानधन योजना से अब तीन हजार रुपये की मासिक पेंशन 60 साल की उम्र होने पर मिलने लगी है। इसी तरह नीम कोटेड यूरिया किसानों को देकर यूरिया की ब्लैक मार्केटिंग रोक दी गई है। वहीं 2400 रुपये में मिलने वाला डीएपी अब 1200 रुपये में आता है। इन विषयों की चर्चा किसानों के बीच करें।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की एक बार फिर पीठ थपथपाते हुए नड्डा ने कहा कि योगी जी के नेतृत्व में आज उत्तर प्रदेश तेजी से तरक्की कर रहा है। दशकों से कई गांव ऐसे थे, जहां कभी बिजली नहीं आई लेकिन देश में मोदी और प्रदेश में योगी के नेतृत्व में आज लोगों के जीवन में रोशनी आई है। पहले भारत की तस्वीर थी कि धुएं में फेफड़ा जलाकर महिला अपने परिवार को खाना खिलाती थी लेकिन उज्ज्वला योजना ने महिलाओं की जिन्दगी में बदलाव लाने का काम किया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments