Homeजुर्मलखीमपुर खीरी हिंसा: केन्द्रीय मंत्री अजय मिश्रा का बेटा आशीष लम्बी पूछताछ...

लखीमपुर खीरी हिंसा: केन्द्रीय मंत्री अजय मिश्रा का बेटा आशीष लम्बी पूछताछ के बाद गिरफ्तार

लखनऊ। केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा को लखीमपुर खीरी में किसानों की मौत के मामले में आखिरकार गिरफ्तार कर लिया गया है। पूछताछ के लिये शनिवार को यहां क्राइम ब्रान्च की टीम के पास पहुंचे आशीष मिश्रा से पुलिस ने दिन भर सवालों की बौछार की। उसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया। आशीष पर जांच में सहयोग न करने की भी बात कही जा रही है।

आशीष मिश्रा को शुक्रवार को पुलिस ने दूसरी नोटिस जारी कर पूछताछ के लिए शनिवार सुबह 11 बजे तक पेश होने का समय दिया था। आशीष मिश्रा शुक्रवार को लखीमपुर खीरी में पुलिस के सामने पेश नहीं हुए थे। इसलिए उनके घर पर दूसरी नोटिस चस्पा की गई थी। शनिवार को आशीष ने क्राइम ब्रान्च के सामने अपना पक्ष रखा और घटना वाले दिन से जुड़ी अपनी बातें रखीं। हालांकि इसके बाद भी आशीष की गिरफ्तारी पर तलवार लटकती रही और आखिरकार उसे गिरफ्तार कर लिया गया। सूत्रों के मुताकि आशीष मिश्र ने वीडियो फुटेज के साथ अपनी कई दलीलें दीं, लेकिन जांच टीम उनसे असंतुष्ट नजर आई। लगभग 12 घंटे की पूछताछ के दौरान एसपी विजय ढुल सहित कई अन्य अधिकारी क्राइम ब्रांच के दफ्तर से बाहर निकले। पर्यवेक्षण समिति के अध्यक्ष डीआईजी उपेंद्र अग्रवाल ने मीडिया को आशीष की गिरफ्तारी की जानकारी दी।

डब्ल्यूएचओ: छह में से एक बच्चा मानसिक रूप से अस्वस्थ

इससे पहले इस प्रकरण में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा उठाए गए कदमों से असंतुष्ट उच्चतम न्यायालय ने शुक्रवार को सवाल किया था कि जिन आरोपियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है, उन्हें गिरफ्तार क्यों नहीं किया गया है। इसके साथ ही न्यायालय ने निर्देश दिया कि मामले में साक्ष्य और संबद्ध सामग्री नष्ट नहीं हों। प्रधान न्यायाधीश एन वी रमण की अध्यक्षता वाली पीठ ने स्पष्ट रूप से कहा कि कानून को सभी आरोपियों के खिलाफ अपना काम करना चाहिए तथा आठ लोगों की निर्मम हत्या की जांच के सम्बन्ध में सरकार को सभी उपचारात्मक कदम उठाने होंगे ताकि विश्वास कायम हो सके। राज्य की ओर से पेश वरिष्ठ वकील हरीश साल्वे ने पीठ को आश्वासन दिया कि आज और कल के बीच (जांच में) जो भी कमी है , उसे पूरा किया जाएगा क्योंकि संदेश चला गया है। इसके बाद शनिवार को आशीष की गिरफ्तारी कर ली गई।

लखीमपुर खीरी के तिकुनिया थाने में बहराइच जिले के नानपारा क्षेत्र बंजारन टांडा निवासी जगजीत सिंह की ओर से दर्ज कराई गई एफआईआर में आशीष पर 15-20 अज्ञात लोगों के साथ मिलकर किसानों के ऊपर जीप चढ़ाने और गोली चलाकर हत्या करने का आरोप लगाया गया है। तिकुनिया थाने में आशीष तथा 15-20 अज्ञात लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धाराओं 147, 148, 149, 279, 338, 304 ए, 302 और 120 बी के तहत मामला दर्ज किया गया है। उल्लेखनीय है कि लखीमपुर खीरी जिले में रविवार को हुए संघर्ष में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments