Homeदेशयूपी में डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर को लेकर छह नोड में जल्द उत्पादन...

यूपी में डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर को लेकर छह नोड में जल्द उत्पादन होगा शुरू: राजनाथ

लखनऊ। देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शुक्रवार को अपने संसदीय क्षेत्र लखनऊ के तीन दिन के दौरे पर पहुंचे हैं। राजनाथ सिंह ने सीएम योगी आदित्यनाïथ के सरकारी आवास पर उत्तर प्रदेश डिफेंस इंडस्ट्रीयल कॉरिडोर की बैठक में कार्य प्रगति की समीक्षा करने के साथ ही इस उद्योग में निवेश करने वाले लोगों को संबोधित भी किया।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ उनके सरकारी आवास में उत्तर प्रदेश डिफेंस इंडस्ट्रीयल कॉरिडोर के निर्माण कार्य की प्रगति की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने कहा कि हमारी सरकार डिफेंस इंडस्ट्री से जुड़ी जरूरतों को पूरा करने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। बीते पांच वर्ष में भारत का रक्षा निर्यात 33 प्रतिशत बढ़ा है। हमारा देश आज 75 देशों को रक्षा निर्यात कर रहा है।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर को लेकर छह नोड में जल्दी ही उत्पादन शुरू हो जाएगा। लखनऊ तथा झांसी में निवेश करने वालों को जमीन भी उपलब्ध करा दी गई है। जल्दी ही एक केन्द्र द्वारा प्रायोजित योजना लायी जा रही है,जिसमें डिफेंस इंडस्ट्रीज को कॉरिडोर में निवेश करने के लिए इंसेंटिवाइज करने का प्रावधान है। उन्होंने कहा कि यानी रक्षा क्षेत्र से जुड़े लोग जो चीज लोग चाहते हैं, उनकी वह मुराद पूरी हुई।

Rahane to lead India in first New Zealand Test

राजनाथ सिंह ने कहा कि सरकार का मानना है कि हमारी इंडस्ट्रीज के लिए ऐसा सिस्टम बनाया जाए, जिससे वह अपनी छोटी से बड़ी जितनी भी जरूरत है, आसानी से एक जगह से और किफायती तरीके से पूरी कर सके। उन्होंने कहा कि सरकार और व्यक्तिगत तौर पर वह स्वयं इंडस्ट्री की जरूरत, उसके जोखिम और ताकत को अच्छी तरह समझते हैं। पहले लोग रक्षा मंत्रालय में साउथ ब्लॉक में दाखिल होने से डरते थे, ​कोई आरोप न लग जाए, इसलिए संकोच करते थे। लेकिन अब ऐसा नहीं है। कहीं पर कोई रोक टोक नहीं है। हमारी सरकार डिफेंस इंडस्ट्री से जुड़ी सभी जरूरतों को पूरी करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। दोनों डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर इसी कमिटमेंट के परिणाम है।

रक्षा मंत्री ने कहा कि हमारी सरकार में कई तरह के करिश्माई काम किये गये हैं। वर्ष 2000 से 2014 तक लगभग 200 लाइसेंस की तुलना में हम लोगों ने 2014 से लेकर 2021 तक केवल सात सालों में 350 लाइसेंस दिए हैं। यानी सात साल में चौदह साल से बेहतर काम हुआ है।

बीते चार वर्ष में एयर कनेक्टिविटी में बहुत प्रगति की: योगी आदित्यनाथ

इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्ग दर्शन में उत्तर प्रदेश ने बीते चार वर्ष में एयर कनेक्टिविटी में बहुत प्रगति की है। वर्ष 2017 तक हमारे सिर्फ दो एयरपोर्ट काम कर रहे थे, आज प्रदेश में हमारे नौ एयरपोर्ट काम कर रहे हैं। इसके साथ ही वर्तमान में 12 नए एयरपोर्ट के निर्माण की कार्रवाई आगे बढ़ायी जा रही है। उत्तर प्रदेश में तीन इंटरनेशनल एयरपोर्ट हो गए हैं जबकि चंद रोज बाद चौथे इंटरनेशनल एयरपोर्ट का शिलान्यास प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी करेंगे।

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments