Homeराज्यपूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी पर बिगड़े बोल को लेकर राजद्रोह का मुकदमा...

पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी पर बिगड़े बोल को लेकर राजद्रोह का मुकदमा दर्ज

रामपुर। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) और उत्तराखण्ड (Uttarakhand) के पूर्व राज्यपाल रहे अजीज कुरैशी (Aziz Qureshi) के खिलाफ अर्मायदित शब्दों का प्रयोग करने के आरोप में भाजपा नेता ने रामपुर सिविल लाइंस थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। आकाश सक्सेना की तहरीर पर पुलिस ने कुरैशी पर राजद्रोह की धारा 124 ए समेत अन्य गंभीर धाराओं में केस दर्ज किया है।

दरअसल अजीज कुरैशी शनिवार रात सांसद आजम खां के घर आए थे। भाजपा नेता आकाश सक्सेना ने आरोप लगाया है कि लोगों की भीड़ की उपस्थिति में पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी ने योगी सरकार की तुलना शैतान से की थी। सरकार के खिलाफ अर्मादित शब्दों का प्रयोग किया था। साथ ही सरकार और आजम खां की लड़ाई को इंसान और शैतान की लड़ाई करार दिया था। आरोप है कि पूर्व राज्यपाल का बयान दो समुदायों के बीच शत्रुता आदि की भावनाओं को भड़काने वाला है तथा जान बूझकर लांछन लगाना एवं समाज में अशांति पैदा करने की श्रेणी में आता है।  पुलिस ने तहरीर के आधार पर पूर्व राज्यपाल के खिलाफ आईपीसी की धारा 153ए, 153बी, 124ए, 502 (1) (बी) के तहत रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी के बिगड़े बोल:मुसलमानों को कहा बैगैरत, सरकार की राक्षकों से की तुलना

इससे पहले कुरैशी ने कहा कि आजम खान के साथ जो जुल्म, ज्यादती इस सरकार ने की है, इस सरकार को शर्म आ जाए। डूबने के लिए चुल्लू भर पानी मिले। उन्होंने कहा कि ये शैतान राक्षकों, खून पीने वाले दरिंदों और इंसान की लड़ाई है। एक तरफ इंसान है दूसरी तरफ वो हैं। जो होना है, वो हो रहा है।

अजीज कुरैशी ने मुसलमानों के लिए कहा कि हमारी कौम बेगैरती है। आजम भाई के साथ जितनी जुल्म, ज्यादती हुई इतनी इतिहास में कहीं नहीं मिलेगी। बड़े-बड़े डाकू लुटेरे हुए हैं उन्होंने ने कभी ऐसा नहीं किया। महमूद गजनवी, अहमदशाह अब्दाली और दुर्रानी के जमाने में भी कभी ऐसा नहीं हुआ, जैसा इस सरकार ने किया।

कुरैशी ने कहा कि उन्होंने जौहर यूनिवर्सिटी को मान्यता दिलाने में कोई तीर नहीं मारा है, हर कोई वही काम करता। मैं जानता था मेरी गवर्नरी चली जाएगी लेकिन या तो अपनी कौम को देख लेता या गवर्नरी को देखता। मैंने अपने फर्ज की अदायगी की।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments