Homeराज्य21 साल का हुआ उत्तराखण्ड: मुख्यमंत्री धामी ने दी बधाई, बोले-आदर्श राज्य...

21 साल का हुआ उत्तराखण्ड: मुख्यमंत्री धामी ने दी बधाई, बोले-आदर्श राज्य बनाने के लिए प्रयासरत

एक सप्ताह तक विभिन्न कार्यक्रमों का होगा आयोजन
‘उत्तराखण्ड गौरव पुरस्कार’ की सरकार कर रही शुरुआत

देहरादून। देश के मानचित्र में 09 नवम्बर,2000 को पृथक राज्य के रूप में अ​स्तित्व में आया उत्तराखण्ड इस बार अपना 21वां स्थापना दिवस मना रहा है। राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (सेवानिवृत) और मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रदेशवासियों को इस मौके पर अपनी शुभकामनाएं दी हैं।

राज्यपाल ने दी बधाई, बोले-पूरी तरह से युवा है आज का उत्तराखण्ड
राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (सेवानिवृत) ने कहा कि इन 21 वर्षों में उत्तराखण्ड ने बहुत प्रगति की, लेकिन अब भी बहुत चुनौतियां हैं। इसका सामना सभी को मिलकर करना होगा।
राज्यपाल ने राज्य निर्माण आन्दोलन के सभी ज्ञात-अज्ञात अमर शहीदों, आंदोलनकारियों को श्रद्धाजंलि अर्पित की। उन्होंने देश की सुरक्षा में अपना जीवन बलिदान करने वाले वीर शहीदों को भी श्रद्धासुमन अर्पित किए। राज्यपाल ने कहा कि इस वर्ष उत्तराखण्ड राज्य ने अपनी स्थापना के 21 वर्ष पूरे कर लिए हैं। आज उत्तराखण्ड पूरी तरह से युवा हो चुका है। उन्होंने कहा कि महिलाओं, नौजवानों, किसानों एवं सभी समुदायों की सम्मिलित भागीदारी से उत्तराखण्ड की प्रगति एवं समृद्धि सम्भव है। सैन्यधाम उत्तराखण्ड वीर सैनिकों की पवित्र भूमि है। राज्य सरकार द्वारा सैनिकों एवं पूर्व सैनिकों के कल्याण के लिए बहुत से प्रयास किए गए हैं। देहरादून में पंचमधाम के रूप में सैन्यधाम बनाया जा रहा है। यह हर सैनिक का साझा सम्मान है।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने देवभूमिवासियों को राज्य के स्थापना दिवस के बधाई दी है। मुख्यमंत्री के इसे महोत्सव के रूप में मनाने के ऐलान के बाद पूरे प्रदेश में उत्साह का माहौल है। इस दौरान राज्य के अलग-अलग हिस्सों में एक सप्ताह तक विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। राजधानी से लेकर ग्रामसभा स्तर तक के लोग इस आयोजन का हिस्सा बनेंगे।

धामी सरकार इस बार स्थापना दिवस पर ‘उत्तराखण्ड गौरव पुरस्कार’ की भी शुरुआत करने जा रही है। इसमें राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट योगदान देने वाले पांच प्रतिष्ठित लोगों को पुरस्कृत किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व में वाली केन्द्र सरकार ने उत्तराखण्ड राज्य बनाया था। तब से लेकर आज तक सड़क, स्वास्थ्य, शिक्षा से लेकर हर क्षेत्र में काम तेजी से आगे बढ़ा है। वहीं अभी बहुत सारे काम हम लोगों को करने हैं।

मुख्यमंत्री धामी से मिले गायक दलेर मेहंदी, हेमकुंड साहिब रोपवे निर्माण की योजना के लिये पीएम-सीएम का जताया आभार

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपने केदारनाथ दौरे के दौरान जिस तरह कहा कि आने वाला समय उत्तराखण्ड का होगा, जिसमें देश और पूरी दुनिया उत्तराखण्ड की तरफ देखेगी, तो उसके लिए हम वचनबद्ध और संकल्पबद्ध हैं।

इसके साथ ही 2025 में जब हमारा राज्य 25 वर्ष का होगा और हम अपना रजत जयंती वर्ष मना रहे होंगे, उस समय उत्तराखण्ड देश के आदर्श राज्य की स्थिति में हो, इसके लिए हमारी सरकार और संगठन धरातल पर काम कर रहे हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने देवभूमि के लिए जो विजन देखा है, उसके लिए सभी मिलकर इसे आदर्श राज्य बनाने की दिशा में प्रयासरत हैं।

मुख्यमंत्री ने अपने चार महीने के कार्यकाल का जिक्र करते हुए कहा कि इस दौरान 400 से अधिक अहम फैसले किये गये हैं। सभी को धरातल पर उतारने का काम किया जा रहा है। पहले राज्य को कोरोना से जूझना पड़ा, उसके बाद भारी बारिश के कारण आई आपदा का सामना करना पड़ा। इसके बाद भी राज्य धीरे-धीरे इन सब से उबर रहा है। केन्द्र सरकार से लगातार सहयोग मिल रहा है। डबल इंजन सरकार का लाभ प्रदेश की जनता को मिला है। इसकी बदौलत हम उम्मीदों पर खरा उतरेंगे।

उल्लेखनीय है कि पृथक राज्य की मांग को लेकर कई वर्षों तक चले आन्दोलन के बाद आखिरकार 9 नवम्बर 2000 को उत्तराखण्ड देश का 27वां राज्य बना। वर्ष 2000 से 2006 तक इसे उत्तरांचल के नाम से पुकारा जाता था। लेकिन, जनवरी 2007 में स्थानीय लोगों की भावनाओं का सम्मान करते हुए इसका आधिकारिक नाम बदलकर उत्तराखण्ड कर दिया गया।

गैरसैंण में विकास कार्यों को मिलेगी गति
मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण के लिए जो भी जरूरी कार्य होंगे, सरकार उन्हें पूरा करेगी। अगर सरकार ने ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाई है तो वहां विकास कार्यों को आगे ले जाने का काम भी किया जाएगा। उन्होंने बीते दिनों आई आपदा को लेकर कहा कि सरकार पूरी तरह से संवेदनशील है। एक-एक लापता व्यक्ति को खोजने का काम किया जा रहा है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments