Homeदेश​कंगना के आजादी वाले बयान पर वरुण का पलटवार, बोले-'इस सोच को...

​कंगना के आजादी वाले बयान पर वरुण का पलटवार, बोले-‘इस सोच को पागलपन कहूं या देशद्रोह’

नई दिल्ली। भाजपा सांसद वरुण गांधी ने फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत के एक बयान को लेकर उन पर पलटवार किया है। कंगना ने एक टीवी चैनल कार्यक्रम के दौरान कहा था कि भारत को असली आजादी 2014 में मिली थी। 1947 में देश को भीख मिली थी। वरुण ने इस पर कहा कि इस सोच को मैं पागलपन कहूं या फिर देशद्रोह।

वरुण ने कंगना के बयान सम्बन्धी टीवी कार्यक्रम का वीडियो भी पोस्ट किया है। कंगना को हाल ही में पद्म श्री पुरस्कार मिला है। 2014 में आजादी मिलने से उनका आशय केन्द्र में भाजपा की सरकार बनने से था। कंगना इससे पहले भी अपने बयानों के कारण चर्चाओं में रही हैं।

“Cuts to the heart of humanity”: Langer and Hayden on cricket and ‘breaking the cardinal sin’

वहीं वरुण ने उन पर हमला करते हुए कहा कि कभी महात्मा गांधी जी के त्याग और तपस्या का अपमान, कभी उनके हत्यारे का सम्मान, और अब शहीद मंगल पाण्डेय से लेकर रानी लक्ष्मीबाई, भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद, नेताजी सुभाष चंद्र बोस और लाखों स्वतंत्रता सेनानियों की कुर्बानियों का तिरस्कार। उन्होंने कहा कि इस सोच को मैं पागलपन कहूं या फिर देशद्रोह?

वहीं कांग्रेस के नेशनल मीडिया पैनलिस्ट सुरेन्द्र राजपूत ने कहा कि भाजपा में वरुण गांधी जी को छोड़कर कोई माई का लाल है या इस देश की माटी का लाल है जो कंगना रानावत के बयान की निंदा कर सके?है कोई माटी का लाल संघ, विश्व हिंदू परिषद या बजरंगदल में कंगना जैसी देश द्रोही का विरोध करे। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार कंगना जैसे देश द्रोहियो को पद्मश्री पुरस्कार देती है, जो गांधी, नेहरू, भगत सिंह आजाद, बिस्मिल जैसे आजादी के सेनानियों का अपमान करती है रानी झांसी का अपमान करती है।

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments